Posts

एक ऐसा दौर आया था जब राष्ट्रपति की बग्घी के लिए भारत और पाकिस्तान के बीच हुआ था टॉस

इसी को कहते है सत्ता में सरकार,फिर भी नही सुनी गयी पुकार

कहावते और जुमले सिर्फ किताबों में ही अच्छे लगते हैं लालू जी

नहीं होते जवान तो क्या हम मना पाते जश्न, जवानों के दम से है देश का रुतबा कायम